fbpx

जैविक खाद घर पर कैसे बनायें?

अपने खेतों को उर्वरक और अधिक शक्तिशाली बनाने के लिए हम जैविक खाद के रूप में गोबर का प्रयोग करें तो बहुत अच्छा रहेगा | लेकिन कुछ किसान कहेंगे कि हम तो गोबर का ही प्रयोग करते हैं लेकिन हमें इसके बावजूद भी अच्छे रिजल्ट प्राप्त नहीं हो रहे हैं |

तो मैं आप लोगों को बताना चाहूंगा कि हमारे देश के किसान गोबर को एक जगह पर आते हैं लगभग 5 से 6 महीने तक जिस कारण गोबर की क्षमता कम होती जाती है फिर वह सूखा हुआ कि बाबर हम अपने खेतों में डालते हैं जिस कारण हमें एक अच्छे परिणाम नहीं मिलते हैं | इसी संदर्भ में राजीव दीक्षित बताते हैं कि अगर हम गोबर को ताजा और पानी में मिलाकर डालें तो उससे हमें 3 गुना ज्यादा लाभ प्राप्त होता है

 

गोबर को पानी में कैसे खोला जाए इसका फार्मूला मैं आज आप लोगों को बताऊंगा

  1. मैं आपको एक एकड़ यानी ढाई बीघा के हिसाब से इस फार्मूले को बताऊंगा
  2. हमें 1 एकड़ के हमें 1 एकड़ के लिए खाद बनाने के लिए 10 किलो गोबर की आवश्यकता होगी
  3. इसमें 10 लीटर मूत्र की आवश्यकता होगी इस बात का ध्यान रखें कि जिस जानवर का गोबर हो उसी जानवर का मूत्र भी हो | और मैं आपको एक विशेष बात बताता हूं कि जानवरों के मूत्र की कोई एक्सपायर डेट नहीं होती है
  4. हमें इसमें आधे से 1 किलो गुण मिलाना होगा
  5. इसमें हमें 1 किलो दाल का आटा डालना होगा
  6. अंत में हमें एक पीपल के पेड़ के नीचे की मिट्टी की आवश्यकता होगी | क्योंकि बरगद के नीचे पाई जाने वाली मिट्टियों में जीवाणुओं की मात्रा बहुत अधिक होती है जो कि खेत के लिए काफी लाभदायक होगा
  7. इन को किसी डंडे की सहायता से आपस में मिलाकर 15 दिनों तक एक छायादार जगह पर रखें | 15 दिन के बाद इस तैयार खाद में करोड़ों जीवाणुओं उत्पन्न हो जाएंगे जो कि खेत के लिए अत्यंत लाभदायक होगा |
  8. खेत में उपयोग करते समय इस बात का ध्यान जरूर रखें कि जितना हमने गोबर का यूज़ किया था उसका 10 गुना हमें पानी का यूज करना है |
  9. और इस खाद का प्रयोग खेतों में जुताई के समय हमें तो तो आप हमारी वेबसाइटछिड़काव करके खेतों में डालना है
  10. जीवाणु खाद के फायदे

जीवाणु खाद का सबसे बड़ा फायदा यह है कि यह आपके पौधे या फिर आपकी फसलों को बड़ा होने के लिए स्वस्थ रहने के लिए जिन जिन चीजों की आवश्यकता होगी वह सब इन्हें देगा जैसे कि नाइट्रोजन कैल्शियम फास्फोरस आदि

Leave a Reply

Close Menu